उलझन: सहेली के बॉयफ्रेंड से अफेयर है

मैं हरियाणा से हूं और चंडीगढ़ में जॉब करती हूं। मेरी रूममेट सुमिता जम्मू से है और हम दोनों कॉलेज टाइम से फ्रेंड्स हैं। हम दोनों की पसंद बहुत मिलती है और अंडरस्टैंडिंग भी अच्छी है। कमाल की बात यह है कि हम दोनों एक ही ऑफिस में काम करती हैं। मगर पिछले कुछ दिनों से मैं बहुत परेशान हूं।

हमारे ऑफिस में अमृत नाम का एक लड़का है। हम दोनों को वह पहली ही नजर में बहुत अच्छा लगा था। इसके बाद हम दोनों उसके बारे में ही बात करती रही थीं कई दिनों तक। मैं थो़ड़ा शर्माती हूं, लेकिन सुमिता थोड़ी खुली हुई है। 6 महीने पहले सुमिता और अमृत के बीच दोस्ती हो गई। एक दिन सुमिता ने अमृत को प्रपोज कर दिया और उसने हां कर दी।

Indicative Image

उन दोनों का चक्कर चल रहा है और अमृत हमारे फ्लैट में आता-जाता रहता है। जब अमृत फ्लैट पर आता है, तब मुझे कहीं किसी बहाने से बाहर जाना पड़ता है। मुझे जलन तो होती थी कि जिस लड़के को मैं पसंद करती थी, वह मेरी सहेली के साथ हमबिस्तर हो रहा है। पर मैंने कभी भी दिल की बात को बाहर नहीं आने दिया।

असल समस्या 2 महीने पहले शुरू हुई। सुमिता बीमार हो गई और जम्मू जाना पड़ा। महीना भर वह घर पर ही रही। इस बीच एक दिन अमृत ने मुझे कॉल करके मिलने को कहा। पता था कि सही नहीं, लेकिन मैं खुद को रोक न सकी। मैं उसे पसंद तो करती ही थी। उस दिन के बाद अमृत से रोज मुलाकात होने लगी। वॉट्सऐप पर खूब चैट होती थी। एक दिन वह हमारे फ्लैट पर आया और न जाने क्या हुआ कि हमने सारे बंधन तोड़ दिए, सीमाएं लांघ दीं।

मैं उस दिन के बाद से अमृत को और भी चाहने लगी हूं। पिछले महीने सुमिता घर से लौट आई है। हालात अब ऐसे हैं कि मैं और अमृत सुमिता से छिपकर मिला करते हैं। लेकिन जब मैं उन दोनों को साथ देखती हूं, तो बहुत जलन सी होती है। अमृत कहता है कि वह धीरे-धीरे सुमिता से दूर होकर मेरे पास चला आएगा। लेकिन मैं पागल होती जा रहा हूं। न मैं सुमिता जैसी प्यारी दोस्त को खाना चाहती हूं, न अमृत को, जिसके लिए मैंने अपना सब कुछ कुर्बान  कर दिया। मेरी वजन कम हो रहा है, बीमार सी हो गई हूं, भूख नहीं लगती। कभी-कभी खुदकुशी का भी ख्याल आता है।

अपनी हर समस्या मैं सुमिता से साझा करती थी। मगर कितनी अजीब बात है कि मैं इस बात को उससे डिसकस नहीं कर सकती। कोई दोस्त ऐसा नहीं। समझ नहीं आता क्या करूं।

मंजुषा, चंडीगढ़।
(सभी नाम बदल दिए गए हैं)

ईमेल आईडी पर हमें हमारी एक रीडर का यह सवाल आया है। आप नीचे कॉमेंट करके बता सकते हैं कि उन्हें इन हालात में क्या करना चाहिए। अगर आपकी भी कोई ऐसी समस्या है, तो आप हमें babakyabola@gmail.com पर भेज सकते हैं।

Comments

comments