तेज रफ्तार से ‘पृथ्वी की दिशा’ में आ रहा है विशाल उल्कापिंड

एक बड़ा उल्कापिंड 32 हजार किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पृथ्वी की ओर बढ़ रहा है। हालांकि वैज्ञानिकों ने उम्मीद जताई है कि यह धरती के करीब से निकल जाएगा।

द सन के मुताबिक 2016 NH 23 नाम के इस उल्कापिंड का विस्तार 230 से 525 फुट के बीच है। यानी देखा जाए तो गीज़ा के पिरामड के बराबर जो कि 451 फुट ऊंचा है।

नासा ने इसे संभावित रूप से खतरनाक उल्कापिंडों की श्रेणी में रखा है क्योंकि यह धरती के करीब से गुजर रहा है। अमरीकी स्पेस एजेंसी का कहना है कि 29 अगस्त को यह धरती के पास से होकर निकल जाएगा।

Credit: NASA/JPL-CALTECH
Credit: NASA/JPL-CALTECH

सन के मुताबिक यह 0.03377 ऐस्ट्रोनॉमिकल यूनिट्स के अंदर से गुजरेगा यानी धरती से 48 लाख करोड़ दूर से गुजरेगा।  अगर आपको लगता है कि यह दूरी बहुत ज्यादा है तो बता दें कि सूरज पृथ्वी से लगभग 15 करोड़ किलोमीटर दूर है। इस तरह से ये सूरज के मुकाबले हमारे करीब से गुजरेगा।

Credit: PA
Credit: PA

वॉशिंगटन स्थित नासा मुख्यालय में प्लैनेटरी डिफेंस ऑफिसर लिंडली जॉनसन ने कहा कि धरती को इस उल्कापिंड से कोई खतरा नहीं है।

Comments

comments